Saturday, September 3, 2011

एक नन्ही परी...



देखते ही देखते कब और कैसे रुनझुन अपनी उम्र के दूसरे पड़ाव पर पहुँच गयी पता ही नहीं चला | 7 नवंबर 2003...रुनझुन ने अपने जन्म की ये दूसरी वर्षगाँठ बड़ी ही सादगी और प्यार के साथ मनाई... बस...

मम्मी-पापा और बेटी

अपनी प्यारी सी बेटी के इस खास दिन को मम्मी-पापा ने बड़े ही खास तरीके से मनाया था... पूरा दिन सिर्फ और सिर्फ बेटी के नाम... 
इस दिन मम्मी ने वो गाना रुनझुन को विशेष रूप से सुनाया जो मम्मी को बहुत पसंद था और इस गाने को रुनझुन के जन्म के बाद मम्मी अस्पताल में ही सुनने को व्याकुल हो गयी थी... अब रुनझुन इस गाने के भावों को समझ सकती थी इसलिए इसे सुन वो भी बहुत खुश हुई... इस गाने का हर एक शब्द मानों बेटी के लिए ही लिखा गया था... 


आइये आज आप सब के साथ-साथ हम उन प्यारे लम्हों की सुहानी यादों से गुज़रतें हैं.... 

मेरे घर आयी एक नन्ही परी 

चाँदनी के हसीन रथ पे सवार..

उसकी बातों  में शहद जैसी मिठास 

उसकी सांसों में इतर की महक आए


होठ जैसे कि भीगे-भीगे गुलाब 

गाल जैसे की दहके-दहके अनार 

उसके आने से मेरे आँगन में खिल उठे फूल, गुनगुनाई बहार 

देखकर उसको जी नहीं भरता


 चाहे देखूँ उसे हजारों बा
मैंने पूछा उसे कि कौन है तू

हँस के बोली कि मैं हूँ तेरा प्यार 

मैं तेरे दिल में थी हमेशा से

घर में आई हूँ आज पहली बार  






13 comments:

  1. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    ReplyDelete
  2. रुनझुन बहुत अच्छा लगता है आप के बारे मे इतना कुछ जानना। खूब तरक्की करो और खूब आगे बढ़ो।
    मम्मी-पापा को थैंक्स कहना इतने प्यारे बैकग्राउंड ट्रैक के लिए।

    Love-

    ReplyDelete
  3. peyari pari runjhun

    tumahare bare may jan kar aacha laga
    aasirvadh mera

    ReplyDelete
  4. कल 05/09/2011 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  5. बहुत सारा प्यार और आशीर्वाद .

    ReplyDelete
  6. वाह ...बहुत बढ़िया रुनझुन.... बेस्ट विशेस

    ReplyDelete
  7. रुनझुन ,तुम हमेशा खुश रहो और मुस्कुराते रहो ....

    ReplyDelete
  8. प्यारी रुनझुन ..
    तुम हमेशा खुश रहो और मुस्कुराते रहो ..

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...
    रुनझुन को स्नेह और शुभकामनाएं...
    सादर...

    ReplyDelete
  10. nanhe nanhe haathos se cake khila rahi hai... super cute!! :)
    shabdon ke pare....

    ReplyDelete

आपको मेरी बातें कैसी लगीं...?

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...